होम
 ट्रेन रनिंग स्टेटस
 पी एन आर
 ट्रेनें / सीट
 ट्रेन रूट
 सीट
 किराया
 स्टेशन लाइव
 रिफंड
 जानकारी
English
 जानकारी

सर्कुलर यात्रा टिकट

यदि आप कई स्थानों की तीर्थ-यात्रा या दर्शनीय-स्थलों की सैर करना चाहते हैं तो भारतीय रेल आपको सर्कुलर यात्रा टिकट की सुविधा उपलब्ध कराता है। ये टिकट आपको एक अनोखी यात्रा सुविधा उपलब्ध कराते हैं, क्योंकि ये टिकट उन सभी यात्राओं (नियमित मार्गों को छोड़कर), जो जिस स्टेशन से आरंभ होती हैं उसी पर समाप्त होती हैं, के लिए जारी किए जाते हैं। इन टिकटों पर अधिकतम आठ यात्रा-विरामों की अनुमति है। क्षेत्रीय रेलवे द्वारा मानक सर्कुलर यात्रा टिकट भी जारी किए जाते हैं। यात्रियों की सुविधा के लिए इसमें प्रसिद्ध गंतव्यों को शामिल किया जाता है। इन टिकटों के लिए मार्ग, किराया आदि का विवरण प्रत्येक क्षेत्रीय रेलवे में नामित स्टेशनों से प्राप्त किया जा सकता है। आप ये टिकट खरीद सकते हैं, यदि इन मानक मार्गों में से कोई भी आपकी सुविधानुसार है अन्यथा आप अपने यात्रा-विवरण की जानकारी क्षेत्रीय रेलवे को देकर आवश्यकतानुसार सर्कुलर यात्रा टिकट बनवा सकते हैं।

नोट :↴

01 जुलाई 2017 से रेलवे ने AC और First Class के लिए सर्कुलर यात्रा टिकट बंद कर दिए हैं।

सर्कुलर यात्रा टिकट के लाभ :

सर्कुलर यात्रा टिकट से आप टेलिस्कोपिक दरों का लाभ उठाते हैं, जो नियमित प्वाइंट-टू-प्वाइंट किराये से काफी कम होता है। इन टिकटों से न केवल समय की बचत होती है बल्कि यात्रा के प्रत्येक चरण में टिकट बुक कराने की परेशानी भी नहीं उठानी पड़ती।

सर्कुलर यात्रा वैधता अवधि:

टिकट की वैधता अवधि की गणना यात्रा के दिनों और यात्रा- विराम के दिनों के अनुसार की जाती है - यात्रा दिवस की गणना में 400 कि.मी. की दूरी अथवा उसके भाग को 1 दिन माना जाता है और यात्रा विराम दिनों की गणना में प्रति 200 कि.मी. को 1 दिन माना जाता है. टिकट पर दी गई यात्रा की तारीख से टिकट वैध माना जाएगा। यात्रा-विराम आरंभ करने के लिए कोई प्रतिबंध नहीं होगा। यात्रा आरंभ होने की तारीख को यात्री को टिकट पर अपने हस्ताक्षर करके तारीख भी डालनी होगी।

सर्कुलर यात्रा यात्रा विराम :

सर्कुलर यात्रा टिकट पर अधिकतम आठ यात्रा-विरामों की अनुमति होगी. सर्कुलर यात्रा टिकटों पर यात्रा-विराम संबंधी पृष्ठांकन की आवश्यकता नहीं होती है।

सर्कुलर यात्रा टिकट का किराया :

सर्कुलर यात्रा टिकट पर दो इकहरी यात्रा प्रभार लिए जाता है, प्रत्येक यात्रा कुल दूरी का आधा भाग माना जाता है। यात्रा के विभिन्न चरणों के लिए आरक्षण प्रभार, सुपरफास्ट के लिए सप्लीमेंट्री प्रभार आदि अलग से वसूले जाते हैं। यदि कोई यात्री उच्च श्रेणी अथवा उच्च श्रेणी वाली गाड़ियों में यात्रा करना चाहता है, तो उसे दूरी के अनुसार स्थल-से-स्थल आधार पर किराये के अंतर का भुगतान करना होता है।

सर्कुलर यात्रा टिकट बुक कराने की प्रक्रिया :

  • यात्रा मार्ग तय कर लेने के बाद, कुछ प्रमुख स्टेशनों, जिनमें यात्रा आरंभ करने वाला स्टेशन शामिल है, के मंडल के मंडल वाणिज्य प्रबंधक से संपर्क कर सकते हैं। इसके बाद मंडल वाणिज्य प्रबंधक या स्टेशन के अधिकारी आपके यात्रा-विवरण के आधार पर टिकटों की कीमत का आकलन करेंगे। वे वहां के स्टेशन प्रबंधक को भी निर्धारित समय में इसकी जानकारी देंगे।
  • आप जिस स्टेशन से यात्रा करना चाहते हैं, वहां के टिकट-घर से, इस फार्म को प्रस्तुत करके, सर्कुलर यात्रा टिकट खरीद सकते हैं। सर्कुलर यात्रा टिकट खरीद लेने के बाद, आप यात्रा के विभिन्न चरणों के लिए सीट/शायिका आरक्षित कराने के लिए आरक्षण कार्यालय से संपर्क कर सकते हैं। इसके बाद आपको यात्रा के लिए आरक्षित यात्रा टिकट जारी किया जाएगा।
  • दक्षिण रेलवे द्वारा कोई मानक सर्कुलर यात्रा टिकट जारी नहीं किया जाता। दक्षिण रेलवे द्वारा केवल यात्री द्वारा दिए गए यात्रा-विवरण के आधार पर केवल गैर-मानक सर्कुलर यात्रा टिकट जारी किएजाते हैं। सर्कुलर यात्रा टिकट के लिए प्रभार दो एकल-यात्राओं की दूरी के बराबर वसूल किए जाते हैं, जिसमें प्रत्येक एकल-यात्रा की दूरी को कुल दूरी का आधा समझा जाता है।
  • न्यूनतम 1000 कि.मी. की यात्रा कर रहे वरिष्ठ नागरिकों को सर्कुलर यात्रा टिकट की कीमत पर 30% की छूट दी जाती है।
  • जनरल रिजर्वेशन
  • लेडीज रिजर्वेशन
  • सीनियर सिटिज़न रिजर्वेशन
  • स्टूडेंट रिजर्वेशन
  • फॉरेन टूरिस्ट रिजर्वेशन
  • बोर्डिंग बदलना
  • सर्कुलर टिकट रिजर्वेशन
  • UTS
  • पैसा कटा -टिकट बुक नहीं हुआ